Posts

Showing posts from September, 2020

करें भगत हो आरती माई दोई बिरियां आरती लिरिक्स - Kare Bhagat Ho Aarti Mayi Doyi Biriya Aarti Lyrics

करें भगत हो आरती माई दोई बिरियां आरती लिरिक्स करें भगत हो आरती  माई दोई बिरियां  सोने के लोटा गंगा जल  पानी माई दोई बिरियां, अतर चढें दो दो सिसियां  माई दोई बिरियां, करें भगत हो आरती  माई दोई बिरियां लाए नंदन वन से फुलवा  माई दोई बिरियां , हार बनाये चुन चुन  कलियां माई दोई बिरियां , करें भगत हो आरती  माई दोई बिरियां पान सुपारी माई ध्वजा नारियल  दोई बिरियां , धूप कपूर चढ़े चुड़ियाँ  माई दोई बिरियां , करें भगत हो आरती  माई दोई बिरियां लाल वरण सिंगार करे  माई दोई बिरियां , मेवा खीर सजी थरियां  माई दोई बिरियां , करें भगत हो आरती  माई दोई बिरियां पांच भगत मिल जस तोरे गावे  माई दोई बिरियां काटो बिपत की भई जरियां  माई दोई बिरियां करें भगत हो आरती  माई दोई बिरियां करें भगत हो आरती माई दोई बिरियां आरती लिरिक्स  Kare Bhagat Ho Aarti Mayi Doyi Biriya Aarti Lyrics  hindi  Singer- Rakesh Tiwari ऐसे ही सुन्दर भजन आप यहां पर देख सखते है गणेश जी के भजन विट्ठलाचे अभंग मराठी राधा कृष्ण के भजन कृष्णाच्या गवळणी मराठी शिव जी के भजन गुरुदेव के भजन माता रानी के भजन दादाजी धुनिवाले के भजन साईं बाबा के भजन देश

आई भवानी तुझ्या कृपेने भजन लिरिक्स - Aai Bhawani Tuzya Krupene Bhajan Lyrics

आई भवानी तुझ्या कृपेने भजन लिरिक्स आई भवानी तुझ्या कृपेने  तारसी भक्ताला  अगाध महिमा तुझी माऊली  वारी संकटाला आई कृपा करी माझ्यावरी,  जागवितो रात सारी आज गोंधळाला ये .... गोंधळ मांडला  भवानी गोंधळाला ये गोंधळ मांडला ग  अंबे गोंधळाला ये उधं उधं उधं उधं उधं गळ्यात घालून कवड्याची माळ  पायात बांधिली चाळ हातात परडी तुला ग आवडी  वाजवितो संबळ धगधगत्या ज्वालेतून आली तूच जगन्माता भक्ती दाटून येते आई  नाव तुझे घेता आई कृपा करी माझ्यावरी,  जागवितो रात सारी आज गोंधळाला ये .... गोंधळ मांडला  भवानी गोंधळाला ये गोंधळ मांडला ग  अंबे गोंधळाला ये उधं उधं उधं उधं उधं अग सौख्यभरीला माणिक मोती  मंडप आकाशाचा हात जोडुनि करुणा भाकितो  उद्धार कर नावाचा अधर्म निर्दाळुनी धर्म हा  आई तूच रक्षिला महिषासुर-मर्दिनी पुन्हा हा  दैत्य इथे मातला आज आम्हांवरी संकट भारी  धावत ये लौकरी अंबे गोंधळाला ये गोंधळ मांडला  भवानी गोंधळाला ये गोंधळ मांडला ग  अंबे गोंधळला ये अंबाबाईचा .....  उधं उधं उधं उधं उधं बोल भवानी मातेचा .....  उधं उधं उधं उधं उधं आई भवानी तुझ्या कृपेने भजन लिरिक्स मराठी   Aai Bhawani Tuzya Krupene Bhajan Ly

परब्रह्म रूपिणी माते महालक्ष्मी आरती लिरिक्स - Parbramh Rupini Mate Mahalakshmi Aarti Lyrics

परब्रह्म रूपिणी माते महालक्ष्मी आरती लिरिक्स परब्रह्म रूपिणी माते  महालक्ष्मी जय जय जय  सुखकारिणी भव दुु: ख निवारिणी पाप नाशिनी जय जय जय परब्रह्म रूपिणी माते  महालक्ष्मी जय जय जय  ब्रह्मादिक तुज ध्याती  गुण संकिर्तन करिती  सुरवर अवघे संकट काळी तुझ्याच नामे तरती भक्तजना वर निज छाया धरी  हे भुवनेश्वरी जय जय जय परब्रह्म रूपिणी माते  महालक्ष्मी जय जय जय रत्नमण्यांची कांती  राजस वदना वरती  गरुडारूढ जगन्मातेची भव्य शोभते मूर्ति बैस येऊनी ह्रदय आसनी  हे जग जननी जय जय जय परब्रह्म रूपिणी माते  महालक्ष्मी जय जय जय प्रणव रूपिणी जय जय जय त्रिपुरसुंदरी जय जय जय मूलाधारनिवासिनी जय महालक्ष्मी जय जय जय महालक्ष्मी जय जय जय महालक्ष्मी जय जय जय परब्रह्म रूपिणी माते महालक्ष्मी आरती लिरिक्स Parbramh Rupini Mate Mahalakshmi  Aarti Lyrics Hindi ऐसे ही सुन्दर भजन आप यहां पर देख सखते है गणेश जी के भजन विट्ठलाचे अभंग मराठी राधा कृष्ण के भजन कृष्णाच्या गवळणी मराठी शिव जी के भजन गुरुदेव के भजन माता रानी के भजन दादाजी धुनिवाले के भजन साईं बाबा के भजन देश भक्ति गीत राम जी के भजन फ़िल्मी तर्ज पर भजन हनुमान जी के भजन

श्री विन्ध्याचल चालीसा लिरिक्स - Shree Vindheshwari Chalisa Lyrics Hindi

Image
श्री विन्ध्याचल चालीसा लिरिक्स || दोहा || नमो नमो विन्ध्येश्वरी, नमो नमो जगदंब संत जनों के काज में, करती नहीं विलंब॥ || चौपाई || जय जय जय विन्ध्याचल रानी।  आदि शक्ति जगबिदित भवानी॥ सिंह वाहिनी जय जगमाता।  जय जय जय त्रिभुवन सुखदाता॥ कष्ट निवारिनि जय जग देवी।  जय जय संत असुर सुरसेवी॥ महिमा अमित अपार तुम्हारी।  सेष सहस मुख बरनत हारी॥ दीनन के दु:ख हरत भवानी।  नहिं देख्यो तुम सम कोउ दानी॥ सब कर मनसा पुरवत माता।  महिमा अमित जगत विख्याता॥ जो जन ध्यान तुम्हारो लावे।  सो तुरतहिं वांछित फल पावे॥ तू ही वैष्णवी तू ही रुद्रानी।  तू ही शारदा अरु ब्रम्हाणी ॥ रमा राधिका श्यामा काली।  तू ही मात संतन प्रतिपाली॥ उमा माधवी चंडी ज्वाला।  बेगि मोहि पर होहु दयाला॥ तुम ही हिंगलाज महारानी।  तुम ही शीतला अरु विज्ञानी॥ तुम्हीं लक्ष्मी जग सुख दाता।  दुर्गा दुर्ग विनाशिनी माता॥ तुम ही जानवी अरु इन्द्राणी ।  हेमावती अंबे निरवाणी॥ अष्टभुजा बाराहिनि देवा।  करत विष्णु शिव जाकर सेवा॥ चौसट्टी देवी कल्याणी।  गौरि मंगला सब गुन खानी॥ पाटन मुंबा दंत कुमारी।  भद्रकाली सुन विनय हमारी॥ बज्रधारिनी शोक नासिनी।  आयु रक्षिणी विन्

अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती लिरिक्स- Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti Lyrics

Image
 अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती लिरिक्स अम्बे तू है जगदम्बे काली, जय दुर्गे खप्पर वाली, तेर ही गुण गायें भारती, ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती  तेरे भक्त जानो पर  मैया भीड़ पड़ी है भारी, दानव दल पर टूट पड़ो माँ  कर के सिंह सवारी  सौ सौ सिंघो से है बलशाली, है दस भुजाओं वाली, दुखिओं के दुखड़े निवारती  ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती माँ बेटे की है इस जग में बड़ा ही निर्मल नाता, पूत कपूत सुने है पर ना  माता सुनी कुमाता  सबपे करुना बरसाने वाली, अमृत बरसाने वाली, दुखिओं के दुखड़े निवारती  ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती नहीं मांगते धन और दौलत  ना चांदी ना सोना, हम तो मांगे माँ तेरे मन में  एक छोटा सा कोना  सब की बिगड़ी बनाने वाली, लाज बचाने वाली, सतिओं के सत को सवारती  ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती अम्बे तू है जगदम्बे काली जय दुर्गे खप्पर वाली आरती लिरिक्स  Ambe Tu Hai Jagdambe  Kali Jai Durge Khappar Wali Aarti Lyrics Hindi Kali Mata Ki Aarti Lyrics Hindi  Devi Aarti: Ambe Tu Hai Jagdambe Kali   Singer: Anuradha Paudwal  Lyricist: Traditional ऐसे ही सुन्दर भजन आप यहां पर देख सखते है गणेश जी के भजन व

लेके पूजा की थाली भजन लिरिक्स - Leke Pooja Ki Thali Bhajan Lyrics

Image
लेके पूजा की थाली भजन लिरिक्स लेके पूजा की थाली  ज्योत मन की जगा ली, तेरी आरती उतारू भोली माँ, तू जो देदे सहारा  सुख जीवन का सारा, तेरे चरणों पे वारु भोली माँ, ओ माँ ओ माँ .. धुल तेरे चरणों की लेकर  माथे तिलक लगाया, यही कामना लेकर मैया  द्वारे तेरे मै आया, रहु मैं तेरा होके तेरी सेवा में खो के  सारा जीवन गुजारु देवी माँ, तू जो दे दे सहारा  सुख जीवन का सारा  तेरे चरणों पे वारु देवी माँ, सफल हुआ ये जन्म के मैं था  जन्मो से कंगाल, तूने भक्ति का धन देके  कर दियां मालामाल, रहे जबतक ये प्राण  करूँ तेरा ही ध्यान  नाम तेरा पुकारू भोली माँ, तू जो दे दे सहारा  सुख जीवन का सारा तेरे चरणों पे वारु देवी माँ, लेके पूजा की थाली भजन लिरिक्स  Leke Pooja Ki Thali Mara Rani Bhajan Lyrics Hindi  Devi Bhajan: Leke Pooja Ki Thali Singer: Suresh Wadkar Lyricist: Naqsh Layalpuri  Album: Jai Maa Vaishno Devi ऐसे ही सुन्दर भजन आप यहां पर देख सखते है गणेश जी के भजन विट्ठलाचे अभंग मराठी राधा कृष्ण के भजन कृष्णाच्या गवळणी मराठी शिव जी के भजन गुरुदेव के भजन माता रानी के भजन दादाजी धुनिवाले के भजन साईं बाबा के भजन द

नदी किनारे नारियल है रे गरबा भजन लिरिक्स - Nadi Kinare Nariyal Hai Re Garba Bhajan Lyrics

Image
नदी किनारे नारियल है रे गरबा भजन लिरिक्स नदी किनारे नारियल है रे  नारियल है रे, ओ म्हारी कालिका माँ ने वास्ते रे, भाई नारियल है रे, नदी किनारे नारियल है रे, भाई नारियल है रे पहलो यो नारियल नवरंगी रे भाई, नवरंगी रे, पहलो यो नारियल नवरंगी रे  भाई नवरंगी रे, हो म्हारी कालिका माँ के वास्ते रे, भाई नवरंगी रे, नदी किनारे नारियल पेड़ भाई, भाई नारियल है रे दूजो यो नारियल नवरंगी रे  भाई नवरंगी रे, हो म्हारी वैष्णव माँ के वास्ते रे, नवरंगी रे, नदी किनारे नारियेरी रे भाई, भाई नारियल है रे।। तीसरो यो नारियल नवरंगी रे  भाई नवरंगी रे, हो म्हारी अम्बा माँ के वास्ते रे, भाई नवरंगी रे, नदी किनारे नारियेरी रे भाई, भाई नारियल है रे।। चौथो यो नारियल नवरंगी रे  भाई नवरंगी रे हो म्हारी जगदम्बे माँ के वास्ते रे, भाई नवरंगी रे नदी किनारे नारियेरी रे भाई, भाई नारियल है रे।। पांचवो यो नारियल नवरंगी रे भाई नवरंगी रे, हो म्हारी पाटना माँ के वास्ते रे, भाई नवरंगी रे नदी किनारे नारियेरी रे भाई, भाई नारियल है रे।। नदी किनारे नारियल है रे गरबा भजन लिरिक्स  Nadi Kinare Nariyal Hai Re Garba Bhajan Lyrics Hindi  Song :-

मन लेके आया माता रानी के भवन में भजन लिरिक्स - Man Leke Aaya Mata Rani Ke Bhawan Me Bhajan Lyrics

Image
मन लेके आया माता रानी के भवन में भजन लिरिक्स मन लेके आया माता रानी के भवन में बड़ा सुख पाया, बड़ा सुख पाया, माती रानी के भवन में... जय जय माँ, अम्बे माँ, जय जय माँ, जगदम्बे माँ... मैं जानू वैष्णव माता,  तेरे ऊँचे भवन की माया, भैरव पर क्रोध में आके  माँ तूने त्रिशूल उठाया । वो पर्बत जहां पे तूने  शक्ति का रूप दिखाया, भक्तो ने वहीँ पे मैया  तेरे नाम का भवन बनाया  बड़ा सुख पाया, बड़ा सुख पाया, माती रानी के भवन में... तेरे तेज ने ज्वाला मैया  जब उज्ज्यारा फैलाया, शाह अकबर नंगे पैरों  तेरे दरबार में आया । तेरी जगमग ज्योत के आगे,  श्रद्धा से शीश झुकाया, तेरे भवन की शोभा देखी,  सोने का क्षत्र चढ़ाया॥ बड़ा सुख पाया, बड़ा सुख पाया, माती रानी के भवन में... हे चिंतपूर्णी माता,  तेरी महिमा सबसे नयारी, दिए भाईदास को दर्शन,  तू भक्तो की है प्यारी । जो करे माँ तेरा चिंतन,  तू चिंता हर दे सारी, तेरे भवन से झोली भरके  जाते हैं सभी पुजारी ॥ बड़ा सुख पाया, बड़ा सुख पाया, माती रानी के भवन में... माँ नैना देवी तूने  यह नाम भगत से पाया, नैना गुज्जर को तूने  सपने में दरश दिखाया । आदेश पे तेरे उसने  तेरा मंदि