Posts

Showing posts with the label नवरात्रि स्पेशल

लईयो लईयो भवानी माँ आरती अम्बे की आरती लिरिक्स -Laiyo Laiyo Bhawani Maa Aarti Ambe Ki Aarti Lyrics

Image
लईयो लईयो भवानी माँ आरती अम्बे की आरती लिरिक्स लईयो लईयो भवानी माँ  आरती अम्बे की  कौन बरन मईया तोरी ये आरती  कौन बरन तेरो भार  आरती अम्बे की  लईयो लईयो भवानी माँ  रूप बरन मईया तोरी ये आरती  लोक बरन तेरो भार  आरती अम्बे की  लईयो लईयो भवानी माँ  कौन उतारे मईया तोरी ये आरती  कौन संभाले तेरो भार  आरती अम्बे की  लईयो लईयो भवानी माँ  लंगुरे उतारे मईया तोरी ये आरती  हनुमत संभाले तेरो भार  आरती अम्बे की  लईयो लईयो भवानी माँ  पांच भगत माई तोरे जस गावे  रहे चरण चित लाये आरती अम्बे की  पान सुपारी मईया ध्वजा नारियल  ले ज्वाला तेरी भेट  आरती अम्बे की  लईयो लईयो भवानी माँ  लईयो लईयो भवानी माँ आरती अम्बे की आरती लिरिक्स  Laiyo Laiyo Bhawani Maa Aarti Ambe Ki Aarti Lyrics Hindi  singer- Rakesh Tiwari ऐसे ही सुन्दर भजन आप यहां पर देख सखते है गणेश जी के भजन विट्ठलाचे अभंग मराठी राधा कृष्ण के भजन कृष्णाच्या गवळणी मराठी शिव जी के भजन गुरुदेव के भजन माता रानी के भजन दादाजी धुनिवाले के भजन साईं बाबा के भजन देश भक्ति गीत राम जी के भजन फ़िल्मी तर्ज पर भजन हनुमान जी के भजन बधाई गीत आरति संग्रह चालीसा संग्रह

करें भगत हो आरती माई दोई बिरियां आरती लिरिक्स - Kare Bhagat Ho Aarti Mayi Doyi Biriya Aarti Lyrics

करें भगत हो आरती माई दोई बिरियां आरती लिरिक्स करें भगत हो आरती  माई दोई बिरियां  सोने के लोटा गंगा जल  पानी माई दोई बिरियां, अतर चढें दो दो सिसियां  माई दोई बिरियां, करें भगत हो आरती  माई दोई बिरियां लाए नंदन वन से फुलवा  माई दोई बिरियां , हार बनाये चुन चुन  कलियां माई दोई बिरियां , करें भगत हो आरती  माई दोई बिरियां पान सुपारी माई ध्वजा नारियल  दोई बिरियां , धूप कपूर चढ़े चुड़ियाँ  माई दोई बिरियां , करें भगत हो आरती  माई दोई बिरियां लाल वरण सिंगार करे  माई दोई बिरियां , मेवा खीर सजी थरियां  माई दोई बिरियां , करें भगत हो आरती  माई दोई बिरियां पांच भगत मिल जस तोरे गावे  माई दोई बिरियां काटो बिपत की भई जरियां  माई दोई बिरियां करें भगत हो आरती  माई दोई बिरियां करें भगत हो आरती माई दोई बिरियां आरती लिरिक्स  Kare Bhagat Ho Aarti Mayi Doyi Biriya Aarti Lyrics  hindi  Singer- Rakesh Tiwari ऐसे ही सुन्दर भजन आप यहां पर देख सखते है गणेश जी के भजन विट्ठलाचे अभंग मराठी राधा कृष्ण के भजन कृष्णाच्या गवळणी मराठी शिव जी के भजन गुरुदेव के भजन माता रानी के भजन दादाजी धुनिवाले के भजन साईं बाबा के भजन देश

परब्रह्म रूपिणी माते महालक्ष्मी आरती लिरिक्स - Parbramh Rupini Mate Mahalakshmi Aarti Lyrics

परब्रह्म रूपिणी माते महालक्ष्मी आरती लिरिक्स परब्रह्म रूपिणी माते  महालक्ष्मी जय जय जय  सुखकारिणी भव दुु: ख निवारिणी पाप नाशिनी जय जय जय परब्रह्म रूपिणी माते  महालक्ष्मी जय जय जय  ब्रह्मादिक तुज ध्याती  गुण संकिर्तन करिती  सुरवर अवघे संकट काळी तुझ्याच नामे तरती भक्तजना वर निज छाया धरी  हे भुवनेश्वरी जय जय जय परब्रह्म रूपिणी माते  महालक्ष्मी जय जय जय रत्नमण्यांची कांती  राजस वदना वरती  गरुडारूढ जगन्मातेची भव्य शोभते मूर्ति बैस येऊनी ह्रदय आसनी  हे जग जननी जय जय जय परब्रह्म रूपिणी माते  महालक्ष्मी जय जय जय प्रणव रूपिणी जय जय जय त्रिपुरसुंदरी जय जय जय मूलाधारनिवासिनी जय महालक्ष्मी जय जय जय महालक्ष्मी जय जय जय महालक्ष्मी जय जय जय परब्रह्म रूपिणी माते महालक्ष्मी आरती लिरिक्स Parbramh Rupini Mate Mahalakshmi  Aarti Lyrics Hindi ऐसे ही सुन्दर भजन आप यहां पर देख सखते है गणेश जी के भजन विट्ठलाचे अभंग मराठी राधा कृष्ण के भजन कृष्णाच्या गवळणी मराठी शिव जी के भजन गुरुदेव के भजन माता रानी के भजन दादाजी धुनिवाले के भजन साईं बाबा के भजन देश भक्ति गीत राम जी के भजन फ़िल्मी तर्ज पर भजन हनुमान जी के भजन

श्री विन्ध्याचल चालीसा लिरिक्स - Shree Vindheshwari Chalisa Lyrics Hindi

Image
श्री विन्ध्याचल चालीसा लिरिक्स || दोहा || नमो नमो विन्ध्येश्वरी, नमो नमो जगदंब संत जनों के काज में, करती नहीं विलंब॥ || चौपाई || जय जय जय विन्ध्याचल रानी।  आदि शक्ति जगबिदित भवानी॥ सिंह वाहिनी जय जगमाता।  जय जय जय त्रिभुवन सुखदाता॥ कष्ट निवारिनि जय जग देवी।  जय जय संत असुर सुरसेवी॥ महिमा अमित अपार तुम्हारी।  सेष सहस मुख बरनत हारी॥ दीनन के दु:ख हरत भवानी।  नहिं देख्यो तुम सम कोउ दानी॥ सब कर मनसा पुरवत माता।  महिमा अमित जगत विख्याता॥ जो जन ध्यान तुम्हारो लावे।  सो तुरतहिं वांछित फल पावे॥ तू ही वैष्णवी तू ही रुद्रानी।  तू ही शारदा अरु ब्रम्हाणी ॥ रमा राधिका श्यामा काली।  तू ही मात संतन प्रतिपाली॥ उमा माधवी चंडी ज्वाला।  बेगि मोहि पर होहु दयाला॥ तुम ही हिंगलाज महारानी।  तुम ही शीतला अरु विज्ञानी॥ तुम्हीं लक्ष्मी जग सुख दाता।  दुर्गा दुर्ग विनाशिनी माता॥ तुम ही जानवी अरु इन्द्राणी ।  हेमावती अंबे निरवाणी॥ अष्टभुजा बाराहिनि देवा।  करत विष्णु शिव जाकर सेवा॥ चौसट्टी देवी कल्याणी।  गौरि मंगला सब गुन खानी॥ पाटन मुंबा दंत कुमारी।  भद्रकाली सुन विनय हमारी॥ बज्रधारिनी शोक नासिनी।  आयु रक्षिणी विन्

अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती लिरिक्स- Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti Lyrics

Image
 अम्बे तू है जगदम्बे काली आरती लिरिक्स अम्बे तू है जगदम्बे काली, जय दुर्गे खप्पर वाली, तेर ही गुण गायें भारती, ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती  तेरे भक्त जानो पर  मैया भीड़ पड़ी है भारी, दानव दल पर टूट पड़ो माँ  कर के सिंह सवारी  सौ सौ सिंघो से है बलशाली, है दस भुजाओं वाली, दुखिओं के दुखड़े निवारती  ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती माँ बेटे की है इस जग में बड़ा ही निर्मल नाता, पूत कपूत सुने है पर ना  माता सुनी कुमाता  सबपे करुना बरसाने वाली, अमृत बरसाने वाली, दुखिओं के दुखड़े निवारती  ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती नहीं मांगते धन और दौलत  ना चांदी ना सोना, हम तो मांगे माँ तेरे मन में  एक छोटा सा कोना  सब की बिगड़ी बनाने वाली, लाज बचाने वाली, सतिओं के सत को सवारती  ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती अम्बे तू है जगदम्बे काली जय दुर्गे खप्पर वाली आरती लिरिक्स  Ambe Tu Hai Jagdambe  Kali Jai Durge Khappar Wali Aarti Lyrics Hindi Kali Mata Ki Aarti Lyrics Hindi  Devi Aarti: Ambe Tu Hai Jagdambe Kali   Singer: Anuradha Paudwal  Lyricist: Traditional ऐसे ही सुन्दर भजन आप यहां पर देख सखते है गणेश जी के भजन व

जय देवी जय देवी अम्बे पाटना माते आरती लिरिक्स - Jai Devi Jai Devi Ambe Patna Mate Aarti Lyrics

जय देवी जय देवी अम्बे पाटना माते आरती लिरिक्स जय देवी जय देवी  अम्बे पाटना माते  पंचारती ओवाडीता  प्रसन्न वाटे  सात बहिनी तुम्ही  सात गावाच्या  लाडक्या लेकी तुम्ही  पुण्यवन्ता चा  आशीर्वादाने तुझ्या ग  विघ्ने दूर होती  तुझीया कीर्ति जणू  गोडवी गाती  चैत्र पूर्णिमें ला चाले  तुझा उत्सव ग  दर्शनाला तुझा नित्य  येती वैष्णव  आनंदाने सुहासिनी  ओटी ग भरती  माते तुला वरदान  सारे मागती  ऊँचती घड़ी वरी  तुझा मंदिरी ग  निसर्गाची माया तुझा  खेडती राही  पुरिकाच्या कल्यानाची  चिंता दूर करावी  जगदम्बे भक्ताची तू  माऊली व्हावी  जय देवी जय देवी अम्बे पाटना माते आरती लिरिक्स मराठी  Jai Devi Jai Devi Ambe Patna Mate Aarti Lyrics Marathi ऐसे ही सुन्दर भजन आप यहां पर देख सखते है गणेश जी के भजन विट्ठलाचे अभंग मराठी राधा कृष्ण के भजन कृष्णाच्या गवळणी मराठी शिव जी के भजन गुरुदेव के भजन माता रानी के भजन दादाजी धुनिवाले के भजन साईं बाबा के भजन देश भक्ति गीत राम जी के भजन फ़िल्मी तर्ज पर भजन हनुमान जी के भजन बधाई गीत आरति संग्रह चालीसा संग्रह

जय देवी तुळजा अंबाई तुळजा भवानी आरती लिरिक्स - Jai Devi Tulja Ambai Tulja Bhavani Aarti Lyrics

Image
 जय देवी तुळजा अंबाई तुळजा भवानी आरती लिरिक्स जय देवी तुळजाअंबाई चंडमुंड वधुनिया  महिषासुर वधुनिया  हे विलासी तुझे पाई  वाघावर स्वार झाली  हाती सोन्याचे गोठ  बाजूबंध दंडा मधे जय देवी तुळजाअंबाई आई तुझ्या दरबारी  लाखखंडी भर तेल  जयसे कोड़ी मधे  जय देवी तुळजाअंबाई कवडयांचे गड़ी माड़  करिते भक्तांचा सांभाड  तुडजापुरची माता भवानी   जय देवी तुळजाअंबाई  जय देवी तुळजाअंबाई चंडमुंड वधुनिया  महिषासुर वधुनिया  हे विलासी तुझे पाई    जय देवी तुळजा अंबाई तुळजा भवानी आरती लिरिक्स मराठी  Jai Devi Tulja Ambai Tulja Bhavani Aarti Lyrics  Marathi  Song: TULJA BHAWANI AARTI  Singer: ANURADHA PAUDWAL, ANAND SHINDE  Lyrics: TRADITIONAL ऐसे ही सुन्दर भजन आप यहां पर देख सखते है गणेश जी के भजन विट्ठलाचे अभंग मराठी राधा कृष्ण के भजन कृष्णाच्या गवळणी मराठी शिव जी के भजन गुरुदेव के भजन माता रानी के भजन दादाजी धुनिवाले के भजन साईं बाबा के भजन देश भक्ति गीत राम जी के भजन फ़िल्मी तर्ज पर भजन हनुमान जी के भजन बधाई गीत आरति संग्रह चालीसा संग्रह

श्री दुर्गा चालीसा लिरिक्स - Shree Durga Chalisa Lyrics Hindi

Image
श्री दुर्गा चालीसा लिरिक्स नमो नमो दुर्गे सुख करनी  नमो नमो अम्बे दुःख हरनी  निरंकार है ज्योति तुम्हारी  तिहूं लोक फैली उजियारी  शशि ललाट मुख महाविशाला  नेत्र लाल भृकुटि विकराला  रूप मातु को अधिक सुहावे  दरश करत जन अति सुख पावे  तुम संसार शक्ति लै कीना  पालन हेतु अन्न धन दीना  अन्नपूर्णा हुई जग पाला  तुम ही आदि सुन्दरी बाला  प्रलयकाल सब नाशन हारी  तुम गौरी शिवशंकर प्यारी  शिव योगी तुम्हरे गुण गावें  ब्रह्मा विष्णु तुम्हें नित ध्यावें  रूप सरस्वती को तुम धारा  दे सुबुद्धि ऋषि मुनिन उबारा  धरयो रूप नरसिंह को अम्बा  परगट भई फाड़कर खम्बा  रक्षा करि प्रह्लाद बचायो  हिरण्याक्ष को स्वर्ग पठायो  लक्ष्मी रूप धरो जग माहीं  श्री नारायण अंग समाहीं  क्षीरसिन्धु में करत विलासा  दयासिन्धु दीजै मन आसा  हिंगलाज में तुम्हीं भवानी  महिमा अमित न जात बखानी  मातंगी धूमावति माता  भुवनेश्वरी बगला सुख दाता  श्री भैरव तारा जग तारिणी  छिन्न भाल भव दुःख निवारिणी केहरि वाहन सोह भवानी  लांगुर वीर चलत अगवानी  कर