Posts

Showing posts from October, 2019

मेरी बिगड़ी बनाने वाला एक तू है लिरिक्स - Meri Bigadi Banane Wala Ek Tu Hai Lyrics

Image
मेरी बिगड़ी बनाने वाला एक तू है लिरिक्स मेरी बिगड़ी बनाने वाला मेरी किस्मत जगाने वाला  एक तू है एक तू है एक तू ही तो है ओं श्याम  तेरे सिवा श्याम मै तो किसी को ना जानू  दिन और रात मै तो गुण तेरे गाऊ  मुझे अपना समझने वाला मुझे गले से लगाने वाला  एक तू है एक तू है  एक तू ही तो है ओं श्याम  तेरी दया से मेरा चलता गुजारा  जब भी दुखो ने घेरा तुमको पुकारा  मेरे दुखड़े मिटाने वाला आनंद बरसाने वाला  एक तू है एक तू है  एक तू ही तो है ओं श्याम  अब तक निभाया है तो आगे भी निभाना  बिच मझधार में तू छोड़ मत जाना  मेरी नैया चलाने वाला रामा का तू ही रखवाला  एक तू है एक तू है  एक तू ही तो है ओं श्याम  मेरी बिगड़ी बनाने वाला मेरी किस्मत जगाने वाला  एक तू है एक तू है  एक तू ही तो है ओं श्याम  Meri Bigadi Banane Wala Meri Kismat Jagane Wala Aik Tu Hai Aik Tu Hai Aik Tu Hi To Hai O Shyam  Krishna Bhajan Lyrics In Hindi  ऐसे ही सुन्दर भजन आप यहां पर देख सखते है गणेश जी के भजन विट्ठलाचे अभंग मराठी राधा कृष्ण के भजन कृष्णाच्या गवळणी मराठी शिव जी के भजन गुरुदेव के भजन

जनम अनमोल रे जहर मत घोल रे लिरिक्स - Janam Anmol Re Jahar Mat Ghol Re Lyrics

जनम अनमोल रे जहर मत घोल रे लिरिक्स ये देश बेगाना है छोड़ इसे जाना  आँख जरा खोल रे जहर मत घोल रे  जनम अनमोल रे जहर मत घोल रे  है छोटी जिंदगानी करे काहे मनमानी  तू मीठा मीठा बोल रे जहर मत घोल रे  जनम अनमोल रे जहर मत घोल रे  समय चला जायेगा बड़ा पछतायेगा  मोह में मत तोल रे जहर मत घोल रे  जनम अनमोल रे जहर मत घोल रे  तेरी सुन्दर काया देख क्यों इतराया  ना माँटी मोल  रे जहर मत घोल रे  जनम अनमोल रे जहर मत घोल रे  माया से नाता तोड़ दे घमंड अब छोड़ दे  बजाके अब ढोल रे जहर मत घोल रे  जनम अनमोल रे जहर मत घोल रे  गुरुदेव के भजन यहा पर देख सकते है मोहे लागी लगन गुरु चरणन की भजन चली जा रही है उमर धीरे धीरे भजन हरयाणवी गाना माटी में मिले माटी पानी में पानी अरे अभिमानी पाप की नगरिया में पुण्य कब कमाओगे गुरूदेव की कुटिया को मैंने फूलो से सजाया है हे गुरुदेव मेरे दिल में आओ भजन   खाली हाथ आया है खाली हाथ जायेगा हरी नाम नही होता तो भक्तो का क्या होता जगत में कोई ना परमानेंट भजन   अपना मुझे बनाके चरणों से मुझे लगाके भजन आदमी मुसाफिर है आता है जात

गुरूजी की कुटिया को मैंने फूलो से सजाया है लिरिक्स - Guruji Ki Kutiya Ko Maine Phoolo Se Sajaya Hai Lyrics

Image
गुरूजी की कुटिया को मैंने फूलो से सजाया है  लिरिक्स गुरूदेव की कुटिया को मैंने फूलो से सजाया है  मेरे घर आओ गुरूदेव मैंने आप को बुलाया है  गुरु मेरे ब्रम्हा है गुरु मेरे विष्णु है  गुरु मेरे शिव भोले जिसने जगत रचाया है  गुरूदेव  की कुटिया को मैंने फूलो से सजाया है  गुरु मेरी गंगा है गुरु मेरी जमुना है  गुरु मेरी त्रिवेणी जिसने जगत नवाया है  गुरूदेव  की कुटिया को मैंने फूलो से सजाया है  गुरु मेरे चंदा है गुरु मेंरे तारा है  गुरु मेरे सूरज किरन जिससे जगत उजियारा है  गुरूदेव  की कुटिया को मैंने फूलो से सजाया है  गुरु मेरे माता पिता गुरु मेरे बंधू सखा  गुरु मेरे सतगुरु है जिसने ज्ञान बताया है  गुरूदेव  की कुटिया को मैंने फूलो से सजाया है  मेरे घर आओ गुरूदेव मैंने आप को बुलाया है  Title - Guruji Ki Kutiya Ko Maine Fulo Se Sajaya Hai   Singer -  Rekha Garg  गुरुदेव के भजन यहा पर देख सकते है मोहे लागी लगन गुरु चरणन की भजन चली जा रही है उमर धीरे धीरे भजन हरयाणवी गाना माटी में मिले माटी पानी में पानी अरे अभिमानी पाप की नगरिया में पुण्य कब कमाओ

फूलो से अंगना सजाउंगी जब मैया मेरे घर आएगी भजन लिरिक्स - Phoolo Se Angna Sajaungi Jab maiya Mere Ghar aayegi bhajan Lyrics

फूलो से अंगना सजाउंगी जब मैया मेरे घर आएगी  फूलो से अंगना सजाउंगी  जब मैया मेरे घर आएगी चन्दन चौकी बिछाऊ  माँ का आसन सजाउं मै तो माँ को उस पे बिठाउंगी  जब मैया मेरे घर आएगी  फूलो से अंगना सजाउंगी  जब मैया मेरे घर आएगी  मंगल कलश सजाऊ  गंगा जल भर लाऊ  मै तो माँ के चरण धुलाउंगी  जब मैया मेरे घर आएगी  फूलो से अंगना सजाउंगी  जब मैया मेरे घर आएगी  केसर रोली लेकर आऊ मै  घिस घिस चन्दन तिलक बनाऊ मै तो माँ के तिलक लागाउंगी  जब मैया मेरे घर आएगी  फूलो से अंगना सजाउंगी  जब मैया मेरे घर आएगी  हलवा छोले बनाऊ  मै तो भोग लगाऊ  अपने हाथो से माँ को खिलाऊगी  जब मैया मेरे घर आएगी  फूलो से अंगना सजाउंगी  जब मैया मेरे घर आएगी  फूलो से अंगना सजाउंगी जब मैया मेरे घर आएगी भजन लिरिक्स Phoolo Se Angna Sajaungi Jab maiya Mere Ghar aayegi Mata rani Ka Bhajan Lyrics in Hindi ऐसे ही सुन्दर भजन आप यहां पर देख सखते है गणेश जी के भजन विट्ठलाचे अभंग मराठी राधा कृष्ण के भजन कृष्णाच्या गवळणी मराठी शिव जी के भजन गुरुदेव के भजन माता रानी के भजन दादाजी धुनिवाले के भजन साईं बाबा के भज

मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने लिरिक्स - Meri Lagi Shyam Sang Preet Ye Duniya kya Jane Lyrics

Image
मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने लिरिक्स मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने  क्या जाने कोई क्या जाने क्या जाने कोई क्या जाने  मुझे मिल गया मन का मित ये दुनिया क्या जाने  छवि लखी मैंने श्याम की जब से भयी बावरी मै तो तब से  बांधी प्रेम की डोर मोहन से नाता तोडा मैंने जग से  ये कैसी पागल प्रीत ये दुनिया क्या जाने  मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने  मोहन की सुन्दर सुरतिया मन में बस गयी मोहन मुरतिया  लोग कहे मै भयी बावरिया हो जाऊ अब तेरी रे सांवरिया  ये कैसी निगोड़ी प्रीत ये दुनिया क्या जाने  मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने  हर दम अब तो रहू मस्तानी लोक लाज की नी बिसरानी  रूप राश अंग अंग समानी हेरत हेरत रहू दिवानी  मै तो गाऊ ख़ुशी के गीत ये दुनिया क्या जाने  मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने  क्या जाने कोई क्या जाने क्या जाने कोई क्या जाने  मुझे मिल गया मन का मित ये दुनिया क्या जाने  मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने भजन लिरिक्स   Meri Lagi Shyam Sang Prit Ye Duniya kya Jane Bhajan Lyr

कन्हैया ले चल परली पार लिरिक्स - Kanhaiya Le Chal Parli par Lyrics

Image
कन्हैया ले चल परली पार  लिरिक्स कन्हैया ले चल परलीपार जहाँ बिराजे मेरी राधा रानी  जहाँ बिराजे मेरी श्यामा प्यारी अलबेली सरकार  कन्हैया ले चल परलीपार कन्हैया ले चल परलीपार गुण अवगुण सब तेरे अर्पण पाप पुण्य सब तेरे अर्पण  ये जीवन भी तेरे अर्पण मै तेरे चरणों की दासी  तू मेरा प्राणाधाम कन्हैया ले चल परलीपार जहाँ बिराजे मेरी राधा रानी जहाँ बिराजे मेरी श्यामा प्यारी  अलबेली सरकार कन्हैया ले चल परलीपार तेरी आस लगा बैठी अंखिया खूब थका बैठी हु  अपना आप भुला बैठी हु सांवरिया मै तेरी रागिनी  तू मेरा मलहार कन्हैया ले चल परलीपार जहाँ बिराजे मेरी राधा रानी जहाँ बिराजे मेरी श्यामा प्यारी  अलबेली सरकार कन्हैया ले चल परलीपार तेरे बिना कुछ चाह नही है कोई सूझती राह नही है  जग की तो परवाह नही है  मेरे प्रीतम मेरे मांझी  कर दो नैया पार कन्हैया ले चल परलीपार जहाँ बिराजे मेरी राधा रानी जहाँ बिराजे मेरी श्यामा प्यारी  अलबेली सरकार कन्हैया ले चल परलीपार आनंद धन यहाँ बरस रहा है पत्ता पत्ता हरष रहा है  हरी बिचारा तरस रहा है बहुत हुआ अब हांर गयी मै  क्यों छोड़ा म