हर कोई साईं का दीवाना है लिरिक्स- Har Koi Sai Ka Diwana Hai Lyrics

हर कोई साईं का दीवाना है लिरिक्स 

फ़िल्मी तर्ज - धीरे धीरे प्यार को बढ़ाना है 

हर कोई साईं का दीवाना है,
सबको दरस पाना है,
जाके सर शिरडी में झुकाना है,
सबको दरस पाना है,
हर कोई साईं का दीवाना है,
सबको दरस पाना है।

आते संत और जोगी,
तन के मन के भी रोगी,
रंक  राजा में ना यहाँ,
भेद की रसम,
छोटा ना बड़ा कोई,
देख है खड़ा वोही,
मांगते हैं जोड़े हाथ,
छोडके शरम
सबको जग से लौट जाना है,
सबको दरस पाना है,
हर कोई साईं का दीवाना है,
सबको दरस पाना है।

गम सब के ये हरता,
खुशियों से झोली भरता,
साईनाथ की तो है,
हर तरफ़ नज़र,
साई सबका है साथी,
ज्यो दिए में हो बात,
करता है उजागर वो,
भक्तों की डगर,
कदमों में साई के जमाना है,
सबको दरस पाना है,
हर कोई साईं का दीवाना है,
सबको दरस पाना है।

कुछ पता नहीं कल का,
इस घड़ी या इस पल का,
उसके नाम से ही होगी,
जिंदगी सफल,
साईं नाम है न्यारा,
सुमिर ये जहान सारा,
पाक ऐसा है ये,
ज्यो गंगाजी का जल,
घट घट में ये जल बहाना है
सबको दरस पाना है
हर कोई साईं का दीवाना है,
सबको दरस पाना है।

हर कोई साईं का दीवाना है लिरिक्स- Har Koi Sai Ka Diwana Hai Lyrics

Bhakti Bhajan Song Details

 Song  :-  Har Koi Sai Ka Diwana Hai

 Singer:-  

 Lyrics  :- 

Comments

Popular posts from this blog

गणेश जी के भजन लिरिक्स -Ganesh Ji ke Bhajan Lyrics ( Ganpati Ji Ke bhajan lyrics )

कृष्ण भगवान के भजन लिरिक्स - Krishna Bhajan Lyrics

शिव जी के भजन लिरिक्स - Shiv Ji ke Bhajan lyrics ( Bhole Nath ke Bhajan )