एक दो तीन चार माता जी की जय जयकार लिरिक्स - Ek Do Tin Char Mata Ji Ki Jai Jaikar Lyrics

एक दो तीन चार माता जी की जय जयकार लिरिक्स

सच्चे मन से माँगे जो भी,
देती छप्पर फाड़,
झूठी है ये दुनियां दारी,
सच्चा तेरा द्वार,
बोलो एक दो तीन चार,
माता जी की जय जयकार।

ढोल वाले भैया,
जय मैया जय मैया।
ना चाहे कोई धन दौलत,
और नाहीं कोई रुपया,
ढोल वाले भैया,
जय मैया जय मैया।

छेड़ा तूने नारी को,
अब किस्मत तेरी मारी है,
आजकल के पापियों सुन लो,
नारी सब पर भारी है,
नारी सब पर भारी है,

झांसी वाली रानी की तूने,
देखी है तलवार,
निकल ले भैया पतली गली से,
मत कर कोई विचार,
बोलो एक दो तीन चार,
माता जी की जय जयकार।

झूठी है सब मोह माया,
बीस सच्चा माँ का प्यार,
नाही कोई धोखा है इसमें,
नाहीं झूठा प्यार,
इक बार नहीं सो बार नहीं,

तुम मांगो बार बार,
दे देगी पलभर में,
खुशियों का समाचार,
बोलो एक दो तीन चार,
माता जी की जय जयकार

हो मेरे घर भी आजा माँ 
पुकारू बार बार 
महाकाल का बेटा 
विनती करता बारम्बार 
बोलो एक दो तीन चार,
माता जी की जय जयकार

नादान हैं हम बालक तेरे,
हमको कुछ नहीं आता,
दे दो ज्ञान हमको शेरोवाली माता,
मतलब की ये रिश्तेदारी,
मतलब का संसार,
 
मिला नहीं मुझे कोई सहारा, 
मिला है माँ का प्यार,
बोलो एक दो तीन चार,
माता जी की जय जयकार।


Mata Rani  ke Bhakti Bhajan Song

 Song  :-Ek Do Tin Char Mata Ji Ki Jai Jaikar

 Singer:-Kishan Bhagat

 Lyrics  :-Kishan Bhagat


Comments

नये भजन आप यहाँ से देख सकते है

Show more

Popular posts from this blog

कृष्ण भगवान के भजन लिरिक्स - Krishna Bhajan Lyrics

माता रानी के भजन लिरिक्स - Mata Rani Bhajan List - नवरात्रि स्पेशल देवी भजन लिस्ट

गणेश जी के भजन लिरिक्स - Ganesh Ji ke Bhajan Lyrics ( Ganpati Ji Ke bhajan lyrics ) Bhajan List