गौरी के नंदा गजानंद गणेश वंदना - Gauri Ke Nanda Gajanand ,Ganesh Vandana

 गौरी के नंदा गजानंद  गणेश वंदना


गौरी के नंदा गजानंद गौरी के नंदा 
म्हारा विघ्न हरो 
गणराज गजानंद गौरी के नंदा 
गौरी के नंदा गजानंद

पिता तुम्हारे है शिव शंकर मस्तक पर चंदा 
माता तुम्हारी पार्वती मा ध्यावे जगत बन्दा 
गौरी के नंदा गजानंद

मूषक वाहन सुंड सुन्डाला फरसा हाथ ले धार 
गल वैजन्ती माल बिराजे चढ़े पुष्प गन्धा
गौरी के नंदा गजानंद  

जो नर तुझको नही सुमरता उसका भाग्य मंदा 
जो नर तेरी करे सेवना उसका चले धंधा
गौरी के नंदा गजानंद 

विघ्न हरण मंगल करण विध्या वर देता 
कहता  भक्त राम भजन से कटे पाप फंदा 
म्हारा विघ्न हरो...

गणेश वंदना
Gauri Ke Nanda Lyrics

Gauri Ke Nanda Gajanand ,Ganesh Vandana

Comments

Popular posts from this blog

गणेश जी के भजन -Ganesh Ji ke Bhajan

शिव जी के भजन - Shiv Ji ke Bhajan

विट्ठलाचे अभंग मराठी लिरिक्स - Vitthalache Abhang Marathi lyrics