पंछियों की आवाजे गूंजती है आंगन में भजन लिरिक्स - Panchhiyo Ki Aawaje Gunjati Hai Aangan Me Bhajan lyrics

पंछियों की आवाजे गूंजती है आंगन में भजन लिरिक्स

पंछियों की आवाजे गूंजती है आंगन में
वो जरुर आएंगे आपकी बार सावन में 

एक दुसरे का दुःख बाटता नही कोई 
सब यहाँ पे उलझे है अपनी अपनी उलझन में
वो जरुर आएंगे आपकी बार सावन में 
पंछियों की आवाजे गूंजती है आंगन में

जान से भी बढ़कर है उसको कैसे भुलू मै 
वो बसा है इस दिल की एक एक धड़कन में
वो जरुर आएंगे आपकी बार सावन में 
पंछियों की आवाजे गूंजती है आंगन में

जिस्म क्या जवानी क्या जिंदगी लुटा देंगे 
कोई हम को बांधे तो चाहतो के बंधन में
वो जरुर आएंगे आपकी बार सावन में  
पंछियों की आवाजे गूंजती है आंगन में

पंछियों की आवाजे गूंजती है आंगन में
वो जरुर आएंगे आपकी बार सावन में 

पंछियों की आवाजे गूंजती है आंगन में भजन लिरिक्स -
Panchhiyo Ki Aawaje Gunjati Hai Aangan Me Bhajan lyrics hindi
Ghajal Qawwali lyrics in hindi 

Comments

नये भजन आप यहाँ से देख सकते है

Show more

Popular posts from this blog

कृष्ण भगवान के भजन लिरिक्स - Krishna Bhajan Lyrics

माता रानी के भजन लिरिक्स - Mata Rani Bhajan List - नवरात्रि स्पेशल देवी भजन लिस्ट

गणेश जी के भजन लिरिक्स - Ganesh Ji ke Bhajan Lyrics ( Ganpati Ji Ke bhajan lyrics ) Bhajan List