साई का दरबार सुहाना लगता है भजन - Sai Ka Darbar Suhana Lagata Hai Bhajan

Sai Ka Darbar Suhana Lagata Hai Bhajan 

( दुल्हे का सेहरा सुहाना लगता है फिल्मी तर्ज पर साईं भजन ) 

शहनाईयों की सदा कह  रही है 
ख़ुशी की मुबारक घडी आ गयी है 
सजी है आज महफ़िल साई के रंग में 
सभी के लबो पर ख़ुशी छा गयी है 
आ....  आ....  आ.... आ.... 

साई का दरबार सुहाना लगता है 
दुखियो को  तेरा दर ठिकाना लगता है 
एक दिन जो साई को भजले 
शिर्डी उनका आना जाना लगता है 
साई का दरबार सुहाना लगता है 
दुखियो को  तेरा दर ठिकाना लगता है 
आ....  आ....  आ.... आ.... 

क्या कहू तुमसे मेरी सारी  खबर तुमको 
मै तेरा बंदा हु मुझपर एक नज़र कर दो 
जो भी गलती है तुम्हे हम तो  सुनायेंगे 
साईं मेरा दाता है आज ही मनाएंगे 
मेरा दिल साई नजराना लगता है 
दुखियो को  तेरा दर ठिकाना लगता है 

एक दिन जो साई को भजले 
शिर्डी उनका आना जाना लगता है 
साई का दरबार सुहाना लगता है 
दुखियो को  तेरा दर ठिकाना लगता है 
आ....  आ....  आ.... आ.... 

धडकन धडकन धडकन धडकन 
मेरी धडकन साई धडकन 
मेरी धडकन साई धडकन 

मेरी हर धडकन हर तडपन में तू  बसता 
श्रध्दा सबुरी साथ हो तो सीधा है रस्ता 
सब धर्मो को साई ने यही  सिखाया है 
सबका मालिक एक है सबको बताया है 

मेरा दिल साई नजराना लगता है 
दुखियो को  तेरा दर ठिकाना लगता है 
साई का दरबार सुहाना लगता है 
दुखियो को  तेरा दर ठिकाना लगता है 


Dulhe Ka Sehra Suhana Lagata Hai Tarj Par Sai Bhajan Sai Ka Darbar Suhana Lagata Hai Bhajan lyrics in Hindi




Comments

Popular posts from this blog

गणेश जी के भजन -Ganesh Ji ke Bhajan

शिव जी के भजन - Shiv Ji ke Bhajan

विट्ठलाचे अभंग मराठी लिरिक्स - Vitthalache Abhang Marathi lyrics