जहां जहां राधे वहां जाएंगे मुरारी लिरिक्स - Jaha Jaha Radhe Waha Jayenge Murari Lyrics

जहां जहां राधे वहां जाएंगे मुरारी लिरिक्स

गोकुल कि गलीयो मे देखो धूम मची है आज
ग्वाल बाल और गोप गोपियाँ झूमे सकल समाज
धरा गगन मे हर्ष है छाया बजे मुरलिया साज
मोर मुकुट पीताम्बर धारी आ पहुचे ब्रजराज
बोलो जय कन्हैया लाल कि

जहां जहां राधे वहां जाएंगे मुरारी
जहां जहां राधे वहा जाएगे मुरारी
अबीर गुलाल बरसाएंगे मुरारी
रंग भरी पिचकारी मारेंगे मुरारी
राधे कि.....

राधे रानी रूप है तो रंग है मुरारी
राधा परिधान है तो अंग है मुरारी
फूल मे सुगध जैसे बसती है वैसे
हर घड़ी राधाजी के संग संग है मुरारी
जहां जहां ....

काहे करे कान्हा ऐसे मोसे छेड़खानी
काहे रंग डारी ये चुनर मोरी धानी
रोके तू डगर काहे मारे पिचकारी
केसे समझाऊ तोहे हारी मै तो हारी
जहां जहां.....

प्रेम मे रंगे है दोनों राधा और मुरारी
एक दुजे संग खेले होली मनहारी
वृन्दावन धाम संग रंगों मे है डूबे
धरती गगन और गलिया ये सारी
जहां जहां......

अबीर गुलाल बरसाएंगे मुरारी
रंग भरी पिचकारी मारेंगे मुरारी
राधे कि.....
राधे कि चुनर रंग डारेगे मुरारी
जहां जहां राधे वहां जाएंगे मुरारी

राधा राधा राधा राधा
कृष्णा कृष्णा कृष्णा

जहां जहां राधे वहां जाएंगे मुरारी लिरिक्स - Jaha Jaha Radhe Waha Jayenge Murari Lyrics

Comments

नये भजन आप यहाँ से देख सकते है

Popular posts from this blog

कृष्ण भगवान के भजन लिरिक्स - Krishna Bhajan Lyrics

शिव जी के भजन लिरिक्स - Shiv Ji ke Bhajan lyrics ( Bhole Nath ke Bhajan List )

गणेश जी के भजन लिरिक्स - Ganesh Ji ke Bhajan Lyrics ( Ganpati Ji Ke bhajan lyrics ) Bhajan List