मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सर झुकाना श्याम भजन - Mujhe Ras Aa Gaya Hai Tere Dar Pe Sar Jhukana

मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सर झुकाना श्याम भजन

मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सर झुकाना 
तुझे मिल गयी पुजारन मुझे मिल गया है ठिकाना 
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सर झुकाना 

मुझे इसका गम नही है चाहे दुनिया रूठ जाए 
गम है तो  इतना केवल कही तुम ना रूठ जाना 
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सर झुकाना 

तेरी  बंदगी से पहले मुझको कौन जानता था 
सर अब झुक गया है आता नही उठाना 
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सर झुकाना 

तेरी सावरी सी सूरत मेरे दिल में बस गयी है 
तुम सावरे सलोने अब और ना सताना 
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सर झुकाना 

दुनिया की ठोकरों से आई हु तेरे द्वारे 
आजाओं  श्याम प्यार करके कोई बहाना 
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सर झुकाना 

मेरी आरजू यही है दम निकले तेरे दरपे 
अभी सास चल रही है कही तुम  ना चले जाना 
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सर झुकाना 

मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सर झुकाना 
तुझे मिल गयी पुजारन मुझे मिल गया है ठिकाना 
मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सर झुकाना 

मुझे रास आ गया है तेरे दर पे सर झुकाना श्याम भजन हिंदी लिरिक्स 
 Mujhe Ras Aa Gaya Hai Tere Dar Pe Sar Jhukana shyam Bhajan Lyrics 

Comments

Popular posts from this blog

गणेश जी के भजन -Ganesh Ji ke Bhajan

शिव जी के भजन - Shiv Ji ke Bhajan

विट्ठलाचे अभंग मराठी लिरिक्स - Vitthalache Abhang Marathi lyrics