आये तेरे भवन दे दे अपनी शरण लिरिक्स - Aaye Tere Bhawan De De Apni Sharan Lyrics

आये तेरे भवन दे दे अपनी शरण लिरिक्स

आये तेरे भवन दे दे अपनी शरण,
रहे तुजमे मगन थाम कर ये चरण,
तन मन में भक्ति ज्योति तेरी 
हे माता जलती रहे

उत्सव मनाये नाचे गाये,
चलो मैया के दर जाए,
जय माता दी जोर से बोलो,
चारो दिशाए चार खम्बे बनी है 
मंडप पे आसमा की चादार तनी है,
सूरज भी किरणों की माला ले आया,
कुदरत ने धरती का आंगन सजाया,
करके तेरे दर्शन झूमे धरती गगन,
सनननन गाये पवन सभी तुझमे मगन,
तन मन में भक्ति ज्योति तेरी.......

फुले ने रंगों से रंगोली सजाई
सारी धरती ये महकाए,
जय माता दी जोर से बोलो,
चरणों में बहती है गंगा की धारा,
आरती का दीप लगे हर एक सितारा,
पुरवैया देखो चवर कैसे दुलाये,
ऋतुएं भी माता का झुला झुलाये,
ओ पके भक्ति का धन हुआ पावन ये मन,
करके तेरा सुमरिन खुले अंतर नयन
तन मन में भक्ति ज्योति तेरी.......


आये तेरे भवन दे दे अपनी शरण वैष्णव देवी भजन लिरिक्स 
Aaye Tere Bhawan De De Apni Sharan Vaishnav Devi Bhajan Lyrics Hindi
Devi Bhajan: O Aaye Tere Bhawan
Singer: Sonu Nigam, Anuradha Paudwal 
Lyricist: Bharat Acharya 
Album: Jai Maa Vaishno Devi

Comments

Popular posts from this blog

गणेश जी के भजन -Ganesh Ji ke Bhajan

शिव जी के भजन - Shiv Ji ke Bhajan

विट्ठलाचे अभंग मराठी लिरिक्स - Vitthalache Abhang Marathi lyrics