संकट ने घेरा हैं आज तेरा राम पुकारे रे भजन लिरिक्स - Sankat Ne Ghera Hai Aaj Tera Ram Pukare Re Bhajan Lyrics

संकट ने घेरा हैं आज तेरा राम पुकारे रे भजन लिरिक्स

संकट ने घेरा हैं आज तेरा राम पुकारे रे,
आजा मेरे हनुमान ।
भाई की मूरछा को तोड़के प्राण बचा ले रे,
आजा मेरे हनुमान ॥

पापी ने धोखे से, शक्ति को दे मारा,
मूर्छित पड़ा देखो, कैसे लखन प्यारा ।
मेरी लाज तू आकर बचा, तेरा राम पुकारे रे,
आजा मेरे हनुमान ॥

माता को जाकर के, मैं क्या बताऊंगा,
दुनीया को अब कैसे मुखड़ा दिखाऊंगा ।
तुझे आँख में आंसू लिए तेरा राम पुकारे रे,
आजा मेरे हनुमान ॥

सूरज के उगने से, पहले चले आना,
वरना मुझे भी तू जिन्दा नहीं पाना ।
भाई का गम कैसे सहु, तेरा राम पुकारे रे,
आजा मेरे हनुमान ॥

तेरे राम को जब भी दुखड़ों ने घेरा हे,
आकर के तूने ही, यम से उभरा हे ।
अब ‘हर्ष’ क्यूँ देरी करे, तेरा राम पुकारे रे,
आजा मेरे हनुमान ॥

संकट ने घेरा हैं आज तेरा राम पुकारे रे भजन लिरिक्स हिंदी 
Sankat Ne Ghera Hai Aaj Tera Ram Pukare Re Bhajan Lyrics 
Singer- Naeem Ajmeri

Comments

Popular posts from this blog

गणेश जी के भजन -Ganesh Ji ke Bhajan

शिव जी के भजन - Shiv Ji ke Bhajan

विट्ठलाचे अभंग मराठी लिरिक्स - Vitthalache Abhang Marathi lyrics