श्याम तुमसे मिलने का सत्संग ही बहाना है भजन लिरिक्स - Shyam Tujhe Milne Ka Bhajan Lyrics

श्याम तुमसे मिलने का सत्संग ही बहाना है भजन लिरिक्स

 
श्याम तुमसे मिलने का 
सत्संग ही बहाना है
दुनिया वाले क्या जाने 
मेरा रिश्ता पुराना है
जब से तेरी लगन लगी 
दिल हुआ दीवाना है,

सूरज में ढूँढा तुझे, 
चंदा में पाया है
तारो की झिलमिल में 
मेरे श्याम का बेसरा है,
श्याम तुमसे मिलने का 
सत्संग ही बहाना है

फुलो में ढूँढा तुझे, 
बागियो में पाया है
कलियों की खुश्बू में 
मेरे श्याम का बसेरा हैं,
श्याम तुमसे मिलने का 
सत्संग ही बहाना है

गंगा में ढूँढा तुझे, 
यमुना में पाया हैं
गोदावरी के लेहरो में 
मेरे श्याम का बेसरा है
श्याम तुमसे मिलने का 
सत्संग ही बहाना है

गोकुल में ढूँढा तुझे, 
मथुरा में पाया है
वृंदावन की गलियों में 
मेरे श्याम का बेसरा है,
श्याम तुमसे मिलने का 
सत्संग ही बहाना है

रामायण में ढूँढा तुझे, 
भागवत में पाया है
गीता जी श्लोको में 
मेरे श्याम का बेसरा है,
श्याम तुमसे मिलने का 
सत्संग ही बहाना है

जंगलओ में ढूँढा तुझे, 
मंदिरों में पाया है
भगतो की दिलों में 
मेरे श्याम का बेसरा है,
श्याम तुमसे मिलने का 
सत्संग ही बहाना है

Song : Shyam Tuje Milane Ka Satsang 
Album : Ram Bharoso 
Singer : Master Rana
श्याम तुमसे मिलने का सत्संग ही बहाना है भजन लिरिक्स 
Shyam Tujhe Milne Ka Satsang Hi Bahana Hai Bhajan Lyrics Hindi

Comments

Post a Comment

Popular posts from this blog

गणेश जी के भजन -Ganesh Ji ke Bhajan

शिव जी के भजन - Shiv Ji ke Bhajan

विट्ठलाचे अभंग मराठी लिरिक्स - Vitthalache Abhang Marathi lyrics