शिव जी की महिमा अपरम्पार है लिरिक्स - Shivji Ki Mahima Aparampar Hai Lyrics

शिव जी की महिमा अपरम्पार है लिरिक्स


फ़िल्मी तर्ज - साजन मेरा उस पार है 

शिव जी की महिमा अपरम्पार है 
आया शिवरात्रि का त्यौहार है, 
चरणों में नतमस्तक संसार है, 
आया शिवरात्रि का त्यौंहार है।। 

जिनके उर में सर्पो की माला है, 
भस्म रमाए बैठा डमरू वाला है, 
सिर पर जिनके गंगा की धार है, 
दुनिया उनकी करती जय जयकार है, 
शिव जी की महिमा अपरम्पार है, 
आया शिवरात्रि का त्यौंहार है।। 

भांग धतूरा बेल पत्र ले आए है, 
गंगा जल में अक्षत फूल सजाए है,
होंठों पे भरे बस ओमकार है, 
शिवजी के मंत्रो का गुंजार है, 
शिव जी की महिमा अपरम्पार है, 
आया शिवरात्रि का त्यौंहार है।। 

ईच्छा जन जन की ये पूरी करते है, 
झोली हरदम भक्तों की ये भरते है, 
दर्शन करने से ही उद्धार है, 
गजब अनुज देवेंद्र इनका शृंगार है, 
शिव जी की महिमा अपरम्पार है, 
आया शिवरात्रि का त्यौंहार है।।

शिव जी की महिमा अपरम्पार है लिरिक्स 
Shivji Ki Mahima Aparampar Hai Lyrics In hindi
singer -Mukesh Kumar Meena

Comments

Popular posts from this blog

गणेश जी के भजन -Ganesh Ji ke Bhajan

शिव जी के भजन - Shiv Ji ke Bhajan

विट्ठलाचे अभंग मराठी लिरिक्स - Vitthalache Abhang Marathi lyrics