यह प्रेम सदा भरपूर रहे हनुमान तुम्हारे चरणो में लिरिक्स - Yah Prem Sada Bharpur Rahe Hanuman Tumhare Charno Me Lyrics

यह प्रेम सदा भरपूर रहे हनुमान तुम्हारे चरणो में लिरिक्स


यह प्रेम सदा भरपूर रहे 
हनुमान तुम्हारे चरणो में 
यह अर्ज मेरी मंजूर रहे 
हनुमान तुम्हारे चरणो में 
यह प्रेम सदा भरपूर रहे 
यह प्रेम सदा भरपूर रहे 

निज जीवन की यह डोर तुम्हे 
सौपी है दया कर इसको धरो
उद्धार करो ये दास पड़ा 
हनुमान तुम्हारे चरणों में 
यह प्रेम सदा भरपूर रहे 

संसार मै देखा सार नहीं 
तभी चरणों की शरण गई 
भवबन्ध कटे ये विनती है 
हनुमान तुम्हारे चरणों मै 
यह प्रेम सदा भरपूर रहे 

आँखों में तुम्हारा रूप रमे 
मन ध्यान तुम्हारे में मगन रहे 
धन अर्पित निज सब कर्म करे 
हनुमान तुम्हारे चरणों मै
यह प्रेम सदा भरपूर रहे

यह प्रेम सदा भरपूर रहे हनुमान तुम्हारे चरणो में लिरिक्स 
Yah Prem Sada Bharpur Rahe Hanuman Tumhare Charno Me Lyrics

Bhakti Bhajan Song Details

 Song  :- Yah Prem Sada Bharpur Rahe

 Singer:-  Devendra Pathak Ji 

 Lyrics  :- Devendra Pathak Ji 

Comments

नये भजन आप यहाँ से देख सकते है

Popular posts from this blog

कृष्ण भगवान के भजन लिरिक्स - Krishna Bhajan Lyrics

शिव जी के भजन लिरिक्स - Shiv Ji ke Bhajan lyrics ( Bhole Nath ke Bhajan List )

गणेश जी के भजन लिरिक्स -Ganesh Ji ke Bhajan Lyrics ( Ganpati Ji Ke bhajan lyrics ) Bhajan List