किसी के काम जो आए उसे इंसान कहते हैं लिरिक्स - Kisi Ke Kaam Jo Aaye Use Insaan Kahate Hai Lyrics

किसी के काम जो आए उसे इंसान कहते हैं लिरिक्स

किसी के काम जो आए 
उसे इंसान कहते हैं
पराया दर्द अपनाए 
उसे इंसान कहते हैं

कभी धनवान है कितना 
कभी इंसान निर्धन है
कभी सुख है कभी दुख है 
उसी का नाम जीवन है
जो मुश्किल में ना घबराए 
उसे इंसान कहते

यह दुनिया एक उलझन है 
कहीं धोखा कहीं ठोकर
कोई हंस हंस के जीता है 
कोई सहता है रो-रो कर
जो गिर कर फिर संभल जाये
उसे इंसान कहते है

कहीं सद्गुण हंसाते हैं 
कहीं भूले सताते हैं
भला है भूल ना होना 
कभी वह हो भी जाती है
जो करते हैं ठीक गलती को 
उसे इंसान कहते हैं

किसी के काम जो आए उसे इंसान कहते हैं भजन लिरिक्स
Kisi Ke Kaam Jo Aaye Use Insaan Kahate Hai Bhajan Lyrics

Comments

Popular posts from this blog

गणेश जी के भजन -Ganesh Ji ke Bhajan

शिव जी के भजन - Shiv Ji ke Bhajan

विट्ठलाचे अभंग मराठी लिरिक्स - Vitthalache Abhang Marathi lyrics