आल्हा की ध्वजा नहीं आई हो मां लिरिक्स - Allah ki Dhwaja Nahin Aayi Ho Maa Lyrics

आल्हा की ध्वजा नहीं आई हो मां लिरिक्स 

तीन ध्वजा तीनो लोक से आई 
आल्हा की ध्वजा नहीं आई हो मां

जाओ जाओ मेरे  बिरहा हो लंगुरवा 
आल्हा को पकड़ ले आओ हो मां
अरे एक बन नाके दूजा बन नाके 
तीज़े बन महोवा लोक हो माँ  
तीन ध्वजा तीनो लोक से आई
आल्हा की ध्वजा नहीं आई हो मां

गाव की पनहरिस से पूछे हो लंगुरवा 
आल्हा का पता बतलाओ हो माँ 
अरे बिच में होवे आल्हा को मकनवा 
वही पर डेर लगाओ हो माँ
तीन ध्वजा तीनो लोक से आई
आल्हा की ध्वजा नहीं आई हो मां

आल्हा आल्हा खूब पुकारा 
आल्हा नदियों के घाट हो माँ 
बांध लंघोटी आल्हा नहा रहे 
सरसों को तेल लगाये हो माँ 
तीन ध्वजा तीनो लोक से आई
आल्हा की ध्वजा नहीं आई हो मां

आल्हा की ध्वजा नहीं आई हो मां लिरिक्स - Allah ki Dhwaja Nahin Aayi Ho Maa Lyrics


Bhakti Bhajan Song Details

Song

Allah ki Dhwaja Nahin Aayi Ho Maa

Singer

-  SHAHNAZ AKHTAR

Lyrics

-  SHAHNAZ AKHTAR

Comments

Popular posts from this blog

गणेश जी के भजन -Ganesh Ji ke Bhajan

शिव जी के भजन - Shiv Ji ke Bhajan

विट्ठलाचे अभंग मराठी लिरिक्स - Vitthalache Abhang Marathi lyrics