नन्द के आनंद भयो जय कन्हैया लाल की लिरिक्स - Nand Ke Aanand Bhayo Lyrics

नन्द के आनंद भयो जय कन्हैया लाल की लिरिक्स

हे आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की 

जय हो नन्द लाल की, जय यशोदा लाल की
हाथी घोड़ा पालकी, जय कन्हैया लाल की

हे आनंद उमंग भयो, जय कन्हैया लाल की
बृज में आनंद भयो, जय यशोदा लाल की।

जय हो नंदलाल की, जय यशोदा लाल की।
गोकुल में आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

बृज में आनंद भयो, जय यशोदा लाल की।
हाथी घोडा पालकी, जय कन्हैया लाल की॥

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

बृज में आनंद भयो, जय यशोदा लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
गोकुल में आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

जय हो नंदलाल की, जय यशोदा लाल की।
हाथी घोडा पालकी, जय कन्हैया लाल की॥

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

बृज में आनंद भयो, जय यशोदा लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

कोटि ब्रह्माण्ड के अधिपति लाल की।
हाथी घोडा पालकी, जय कन्हैया लाल की॥

गौ चरने आये, जय हो पशुपाल की।
गोकुल में आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

कोटि ब्रह्माण्ड के अधिपति लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

गौ चरने आये, जय हो पशुपाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

पूनम के चाँद जैसी शोभी है बाल की।
हाथी घोडा पालकी, जय कन्हैया लाल की॥

आनंद उमंग भयो, जय हो नन्द लाल की।
गोकुल में आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

कोटि ब्रह्माण्ड के अधिपति लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

गौ चरने आये, जय हो पशुपाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

भक्तो के आनंद्कनद जय यशोदा लाल की।
हाथी घोडा पालकी, जय कन्हैया लाल की॥

जय हो यशोदा लाल की, जय हो गोपाल की।
गोकुल में आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

कोटि ब्रह्माण्ड के अधिपति लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

गौ चरने आये, जय हो पशुपाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

आनद से बोलो सब जय हो बृज लाल की।
हाथी घोडा पालकी, जय कन्हैया लाल की॥

जय हो बृज लाल की,पावन प्रतिपाल की।
गोकुल में आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

कोटि ब्रह्माण्ड के अधिपति लाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

गौ चरने आये, जय हो पशुपाल की।
नन्द के आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की॥

Comments

Popular posts from this blog

गणेश जी के भजन -Ganesh Ji ke Bhajan

शिव जी के भजन - Shiv Ji ke Bhajan

विट्ठलाचे अभंग मराठी लिरिक्स - Vitthalache Abhang Marathi lyrics