भक्त भुलाये माँ नहीं आये हो नहीं सकता लिरिक्स - Bhakt Bulaye Maa Nahi Aaye Ho Nahi Sakta Lyrics

भक्त भुलाये माँ नहीं आये हो नहीं सकता लिरिक्स

माँ के रहते भगत कभी रो नहीं सकता, 
भक्त भुलाये माँ नहीं आये हो नहीं सकता,

भगत तो जान है इसकी भगत में प्राण अटके है,
भगत को याद कर कर के इसके दिन रात कट ते है,
और कही पर मैया का दिल नहीं लगता,
भक्त भुलाये माँ नहीं आये हो नहीं सकता,

भगत ठोकर खा कर गिरता इसको चोट आती है,
भक्त के पास में इसकी आत्मा दौड़ जाती है,
मंदिर में रुकना के फिर दिल नहीं करता,
भक्त भुलाये माँ नहीं आये हो नहीं सकता,

चाहे घर में चाहे मंदिर में माँ तो बस माँ ही होती है,
भगत के आँख भर आये तो आँखे माँ की रोटी है,
माँ की तुलना कोई भी कर नहीं सकता,
भक्त भुलाये माँ नहीं आये हो नहीं सकता,

बुरी नजरो से ये मैया बचा के रखती है,
सीने से वनवारी हमको ये मियां लगा कर रखती है,
ऊँगली पकड़ कर रखती बेटा खो नहीं सकता,
भक्त भुलाये माँ नहीं आये हो नहीं सकता,

Bhakt Bulaye Maa Nahi Aaye Ho Nahi Sakta Lyrics

Bhakti Bhajan Song Details

 Song  :- Bhakt Bulaye Maa Nahi Aaye Ho Nahi Sakta

 Singer:-  Saurabh-Madhukar

 Lyrics  :- 

Comments

Popular posts from this blog

कृष्ण भगवान के भजन लिरिक्स - Krishna Bhajan Lyrics

गणेश जी के भजन लिरिक्स -Ganesh Ji ke Bhajan Lyrics ( Ganpati Ji Ke bhajan lyrics ) Bhajan List

शिव जी के भजन लिरिक्स - Shiv Ji ke Bhajan lyrics ( Bhole Nath ke Bhajan List )