भवसागर पड़ी मेरी नैया अब आ जा रे मेरे कन्हैया लिरिक्स - Bhavsagar Padi Meri Naiya Ab aa Ja Re Mere Kanhaiya Lyrics

भवसागर पड़ी मेरी नैया अब आ जा रे मेरे कन्हैया लिरिक्स

भवसागर पड़ी मेरी नैया 
अब आ जा रे मेरे कन्हैया 
कहीं डूब ना जाऊं मझधार में
मेरी नईया का बन जा खेवईया

बीच सभा में जब द्रौपदी ने तुमको टेर लगाई थी
प्रेम के बंधन में बंध कर तूने बहन की लाज बचाई थी
जब द्रौपदी ने तुमको पुकारा
आया बहना का बन के तू भइया
कहीं डूब ना जाऊं मझदार में
मेरी नइया का बन जा खेवईया

सखा सुदामा से साँवरिया तूने निभायी थी यारी
मीरा के विष के प्याले को अमृत कर दिया बनवारी
नानी,नरसी ने तुझको पुकारा
आया आया तू बंशी बजईया
कहीं डूब ना जाऊं मझधार में
मेरी नईया का बन जा खेवईया

जरा सामने तो आ साँवरिया
छुप छुप छलने में क्या राज है
यूँ छुप ना सकेगा तू मोहन
मेरी आत्मा की ये आवाज़ है

‘सौरभ मधुकर’ हमने सुना है भगत बिना भगवान नहीं
भावना के भूखे है भगवन,कहते वेद पुराण यही
आज मैंने भी तुझको पुकारा,आके थाम ले मेरी तू बइयां
कहीं डूब ना जाऊं मझधार में
मेरी नईया का बन जा खेवईया

भवसागर पड़ी मेरी नैया
अब आ जा रे मेरे कन्हइया
कहीं डूब ना जाऊं मझधार में
मेरी नईया का बन जा खेवईया

Bhavsagar Padi Meri Naiya Ab aa Ja Re Mere Kanhaiya Lyrics

Bhakti Bhajan Song Details

 Song  :- Bhavsagar Padi Meri Naiya

 Singer:-  Saurabh Madhukar

 Lyrics  :- 

Comments

Popular posts from this blog

कृष्ण भगवान के भजन लिरिक्स - Krishna Bhajan Lyrics

गणेश जी के भजन लिरिक्स -Ganesh Ji ke Bhajan Lyrics ( Ganpati Ji Ke bhajan lyrics ) Bhajan List

शिव जी के भजन लिरिक्स - Shiv Ji ke Bhajan lyrics ( Bhole Nath ke Bhajan List )