पत्थर की राधा प्यारी लिरिक्स - Patthar Ki Radha Pyari Lyrics

पत्थर की राधा प्यारी लिरिक्स

पत्थर की राधा प्यारी,
पत्थर के कृष्ण मुरारी,
पत्थर से पत्थर घिस कर,
पैदा होती चिंगारी,
पत्थर की नारी अहिल्या,
पग से श्री राम ने तारी,
पत्थर के मठ में बैठी,
माँ मेरी शेरा वाली,
​पत्थर की राधा प्यारी,
पत्थऱ के कृष्ण मुरारी।

चौदह बरस वनवास को भेजा,
राम लखन सीता को पत्थर,
रख सीने पे दशरथ ने,
पुत्र जुदाई का एक पत्थर,
सहा देवकी मां ने कैसी,
लीला रचायी कुदरत ने,
पत्थर धन्ने के मिला,
जिसमे ठाकुर बसा,
पत्थर के जगह जगह पर,
भोले भंडारी,
​पत्थर की राधा प्यारी,
पत्थऱ के कृष्ण मुरारी।

लै हनुमान गये जो पत्थर,
राम लिखा पत्थर पर पत्थर,
पानी बीच बहाये,
बह गये पत्थर पानी पे,
देखा जब सेना ने मेरे,
राम बहूत हरषाये,
सेतु बांध बना,
पत्थर पानी तरा,
जिसकी है पूजा करती,
दुनिया यह सारी,
​पत्थर की राधा प्यारी,
पत्थऱ के कृष्ण मुरारी।

हनुमान जो लाये पत्थर,
संजीवनी लै आये सारे,
वीर पुरुष हरषाये,
वही पत्थर बृज भूमि में,
गोवर्धन कहलाये जो हैं,
उँगली बीच उठाएँ,
पत्थर धन्ने के मिला,
जिसमे ठाकुर बसा,
पत्थर के जगह जगह पर,
भोले भण्डारी,
​पत्थर की राधा प्यारी,
पत्थऱ के कृष्ण मुरारी।

​पत्थर की राधा प्यारी,
पत्थर के कृष्ण मुरारी,
पत्थर से पत्थर घिस कर,
पैदा होती चिंगारी,
पत्थर की नारी अहिल्या,
पग से श्री राम ने तारी,
पत्थर के मठ में बैठी,
माँ मेरी शेरा वाली,
​पत्थर की राधा प्यारी,
पत्थऱ के कृष्ण मुरारी।

पत्थर की राधा प्यारी लिरिक्स - Patthar Ki Radha Pyari Lyrics

Bhakti Bhajan Song Details

 Song  :- Patthar Ki Radha Pyari

 Singer:-  Devkinandan ji Thakur

 Lyrics  :- 

Comments

नये भजन आप यहाँ से देख सकते है

Show more

Popular posts from this blog

कृष्ण भगवान के भजन लिरिक्स - Krishna Bhajan Lyrics

माता रानी के भजन लिरिक्स - Mata Rani Bhajan List - नवरात्रि स्पेशल देवी भजन लिस्ट

गणेश जी के भजन लिरिक्स - Ganesh Ji ke Bhajan Lyrics ( Ganpati Ji Ke bhajan lyrics ) Bhajan List