लो हारी मैं तो हारी हूँ कर दो करम लिरिक्स - Lo Hari Mein To Hari Hu Kar Do Karam Lyrics

लो हारी मैं तो हारी हूँ कर दो करम लिरिक्स

महिमा तुम्हारी बाबा भक्तों ने जबसे सुनाई
हारे का साथी बनकर करते हो सुनवाई
लहरा दो मोरछड़ी बाबा चिंता हो जाए कम
देहलीज़ पर तेरी बाबा आकर रुके हैं कदम
लो हारी मैं तो हारी हारी हारी , जग से हारी
लो हारी मैं तो हारी हूँ कर दो करम

सपने बिखर के आँखों से अब हो गए हैं कम
देहलीज़ पर तेरी बाबा आकर रुके हैं कदम
लो हारी मैं तो हारी हारी हारी , जग से हारी
लो हारी मैं तो हारी हूँ कर दो करम

हरे का सहारा मेरा श्याम मेरे बना दे बिगड़े काम 

महसूस कर लो बाबा तड़पन हमारे मन की
आवाज़ देती हैं तुझको उम्मीदें आँगन की
तेरी लगन लगी हमको और तेरे हुए हैं हम
देहलीज़ पर तेरी बाबा आकर रुके हैं कदम
लो हारी मैं तो हारी हारी हारी , जग से हारी
लो हारी मैं तो हारी हूँ कर दो करम

तेरा मेरा ये नाता पावन सभी नातों से
छूटे न चरण तुम्हारे ओ श्याम हाथों से
तुझ पर भरोसा मुझको हुआ हुए दूर मन के भरम
देहलीज़ पर तेरी बाबा आकर रुके हैं कदम
लो हारी मैं तो हारी हारी हारी , जग से हारी
लो हारी मैं तो हारी हूँ कर दो करम

bhakti Bhajan Song Details

 Song  :- Lo Hari Mein To Hari Hu Kar Do Karam

 Singer:- Kratika Malviya

 Lyrics  :- Jayant Sankhla


Comments

Popular posts from this blog

कृष्ण भगवान के भजन लिरिक्स - Krishna Bhajan Lyrics

गणेश जी के भजन लिरिक्स -Ganesh Ji ke Bhajan Lyrics ( Ganpati Ji Ke bhajan lyrics ) Bhajan List

शिव जी के भजन लिरिक्स - Shiv Ji ke Bhajan lyrics ( Bhole Nath ke Bhajan List )