जय देव जय देव जय मंगलमूर्ती आरती लिरिक्स - Jai Dev Jai Dev Mangalmurti Aarti Lyrics (Ganesh Ji Ki Aarti )

जय देव जय देव जय मंगलमूर्ती आरती लिरिक्स

सुखकर्ता दुखहर्ता वार्ता विघ्नाची
नुरवी पूर्वी प्रेम कृपा जयाची
सर्वांगी सुंदर उटी शेंदुराची
कंठी झडके माल मुक्ताफळाची || १ ||
जय देव जय देव
जय देव जय देव जय मंगलमूर्ती
ओ मंगलमूर्ती
दर्शनमात्रेमन कामनापुरती

रत्नखचित फरा तूज गौरीकुमरा
चंदनाची उटी कुंकुमकेशरा
हिरे जडित मुकुट शोभतोबरा
रुणझुणती नुपुरे चरणी घागरिया || 2 ||
जय देव जय देव
जय देव जय देव जय मंगलमूर्ती
ओ मंगलमूर्ती
दर्शनमात्रेमन कामनापुरती

लंबोदर पितांबर फनी वरवंदना
सरळ सोंड वक्रतुंड त्रिनयना
दास रामाचा वाट पाहे सदना
संकटी पावावे निर्वाणी रक्षावे सुरवंदना || ३ ||
जय देव जय देव
जय देव जय देव जय मंगलमूर्ती
ओ मंगलमूर्ती
दर्शनमात्रेमन कामनापुरती

गणेश जी कि आरती

 Song  :-Jai Dev Jai Dev Mangalmurti Aarti

 Singer:- Kanhiya Mittal

 Lyrics  :-Kanhiya Mittal


Comments

नये भजन आप यहाँ से देख सकते है

Popular posts from this blog

कृष्ण भगवान के भजन लिरिक्स - Krishna Bhajan Lyrics

शिव जी के भजन लिरिक्स - Shiv Ji ke Bhajan lyrics ( Bhole Nath ke Bhajan List )

गणेश जी के भजन लिरिक्स - Ganesh Ji ke Bhajan Lyrics ( Ganpati Ji Ke bhajan lyrics ) Bhajan List