तुम उठो सिया सिंगार करो शिव धनुष राम ने तोड़ा है लिरिक्स - Tum Utho Siya Singar Karo Shiv Dhanush Ram Ne Toda Hai Lyrics

तुम उठो सिया सिंगार करो  शिव धनुष राम ने तोड़ा है लिरिक्स

तुम उठो सिया सिंगार करो 
शिव धनुष राम ने तोड़ा है, 
तोड़ा है तोड़ा है 
सीता से नाता जोड़ा है…..

शीश सिया के चुनर सोहे 
टिके की छवि न्यारी है,
न्यारी न्यारी क्या कहिये 
रघुवर को जानकी प्यारी है,
तुम उठो सिया सिंगार करो 
शिव धनुष राम ने तोड़ा है……

हाथ सिया के चूड़ी सोहे 
कंगन की छवि न्यारी है,
न्यारी न्यारी क्या कहिये 
रघुवर को जानकी प्यारी है,
तुम उठो सिया सिंगार करो 
शिव धनुष राम ने तोड़ा है……

कमर सिया के तगड़ी सोहे 
झुमके की छवि न्यारी है,
न्यारी न्यारी क्या कहिये 
रघुवर को जानकी प्यारी है,
तुम उठो सिया सिंगार करो 
शिव धनुष राम ने तोड़ा है

Mata Rani ke Bhakti Bhajan Song

 Song  :- Tum Utho Siya Singar Karo Shiv Dhanush Ram Ne Toda Hai

 Singer:- Aarti

 Lyrics  :-


टिप्पणियाँ

नये भजन आप यहाँ से देख सकते है

ज़्यादा दिखाएं

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

माता रानी के भजन लिरिक्स - Mata Rani Bhajan List - नवरात्रि स्पेशल देवी भजन लिस्ट

शिव जी के भजन लिरिक्स - Shiv Ji ke Bhajan lyrics ( Bhole Nath ke Bhajan List )

गणेश जी के भजन लिरिक्स - Ganesh Ji ke Bhajan Lyrics ( Ganpati Ji Ke bhajan lyrics ) Bhajan List