जय अम्बे गौरी मैया आरती लिरिक्स - Jai Ambe Gauri Aarti Lyrics

जय अम्बे गौरी आरती लिरिक्स


जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी 
तुमको निसदिन ध्यावत 
मैयाजी को निसदिन ध्यावत हरि ब्रम्हाशिवरी  
ओम जय अम्बे गौरी 

मांग सिंदूर विराजत टीको मृगमद को 
उज्ज्वल से दो नैना चंद्रवदन नीको 
ओम जय अम्बे गौरी

कनक समान कलेवर रक्ताम्बर राजै 
रक्तपुष्प गलमाला कण्ठन पर साजै 
ओम जय अम्बे गौरी

केहरि वाहन राजत खड्ग खप्परधारी  
सुर नर मुनि जन सेवत तिनके दुखहारी 
ओम जय अम्बे गौरी

कानन कुण्डल शोभित नासाग्रे मोती 
कोटिक चन्द्र दिवाकर  सम राजत ज्योति 
ओम जय अम्बे गौरी

शुम्भ-निशुम्भ बिदारे महिषासुर घाती 
धूम्र विलोचन नैना निशदिन मदमाती 
ओम जय अम्बे गौरी

चण्ड-मुण्ड संहारे शोणित बीज हरे 
मधु कैटभ दोउ मारे सुर भयहीन करे 
ओम जय अम्बे गौरी

ब्रहमाणी रुद्राणी तुम कमला रानी 
आगम-निगम बखानी तुम शिव पटरानी 
ओम जय अम्बे गौरी

चौंसठ योगिनी गावत नृत्य करत भैरव 
बाजत ताल मृदंगा और बाजत डमरु 
ओम जय अम्बे गौरी

तुम ही जग की माता तुम ही हो भरता 
भक्तन की दु:ख हरता सुख सम्पत्ति करता 
ओम जय अम्बे गौरी

भुजा चार अति शोभित वरमुद्रा धारी 
मनवान्छित फल पावत सेवत नर-नारी 
ओम जय अम्बे गौरी

कंचन थाल विराजत अगर कपूर बाती 
श्रिमालकेतु में राजत कोटि रतन ज्योति 
ओम जय अम्बे गौरी

श्री अंबेजी की आरती जो कोई नर गावे 
कहत शिवानंद स्वामी सुखसंपत्ति पावे 
ओम जय अम्बे गौरी

जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी 
तुमको निसदिन ध्यावत 
मैयाजी को निसदिन ध्यावत हरि ब्रम्हाशिवरी  
ओम जय अम्बे गौरी 

Devi Bhajan: Jai Ambe Gauri 
Singer: Anuradha Paudwal 
Lyricist: Traditional
आरती संग्रह 

Jai Ambe Gauri Aarti , Jai Ambe Gauri Lyrics,Durga mata ji ki Aarti, 
दुर्गा माता की आरती ,जय अम्बे गौरी आरती लिरिक्स  ,

Comments

Popular posts from this blog

गणेश जी के भजन -Ganesh Ji ke Bhajan

शिव जी के भजन - Shiv Ji ke Bhajan

विट्ठलाचे अभंग मराठी लिरिक्स - Vitthalache Abhang Marathi lyrics