मेरी जान जाये वतन के लिए क़व्वाली लिरिक्स - Meri Jaan Jaye Watan Ke Liye Qawwali Lyrics

मेरी जान जाये वतन के लिए क़व्वाली लिरिक्स


*शायरी* 
ये धरती माँ है मेरी 
के अलग ऐलान लिख देना 
मेरी इस जिन्दगी पे  
इसके है ऐहसान है लिख देना 
ये किस का मकबरा है 
दुनिया वाले जान जायेंगे 
मेरी कब्र के पत्थर पर 
हिन्दुस्तान लिख देना 

बहे खून मेरा चमन के लिए
चमन के लिए...
मेरी जान जाये वतन के लिए 

मेरा दिल जिगर और मेरी जान भी 
मेरी जान भी 
है कुर्बान कंधो चमन के लिए 
मेरी जान जाये वतन के लिए 

भरत राम की तरह करलो मिलाप 
करलो मिलाप .....
हो इतना करम संघटन के लिए 
मेरी जान जाये वतन के लिए 

जो सरहद पे मुझको शहादत मिले 
ना  मै हुस्न की अंजुमन चाहता हु 
ना  मै यारी प्यारी दुल्हन चाहता हु 
ना मै चाँद जैसा ललन चाहता हु 
ना मै रोशनी की किरण चाहता हु 
ना बस्ती ना सेहरा ना बन चाहता हु 
ना मै आलिशान भवन चाहता हु 
ना  मै किमती पैरंहण चाहता हु
ना  मै पैसा गाड़ी ना धन  चाहता हु  
खुदा मै तो ये ही चमन चाहता हु 
यही धरती गम वो चमन चाहता हु 

जो सरहद पे मुझको शहादत मिले 
शहादत मिले ...
तिरंगा उढाना कफ़न के लिए 
मेरी जान जाये वतन के लिए 

बहे खून मेरा चमन के लिए
चमन के लिए...
मेरी जान जाये वतन के लिए 

मेरी जान जाये वतन के लिए क़व्वाली लिरिक्स हिंदी में 
Meri Jaan Jaye Watan Ke Liye Qawwali Lyrics in Hindi 
Deshi Bhakti Song- Meri Jaan Jae Watan Ke Liye
Singer - Chand Qadri
Lyrics - Chand Qadri


Comments

Post a Comment

Popular posts from this blog

गणेश जी के भजन -Ganesh Ji ke Bhajan

शिव जी के भजन - Shiv Ji ke Bhajan

विट्ठलाचे अभंग मराठी लिरिक्स - Vitthalache Abhang Marathi lyrics