मनुष जनम अनमोल रे मिट्टी में ना रोल रे भजन लिरिक्स - Manush Janam Anmol Re Mitti Me Na Rol Re Bhajan Lyrics

मनुष जनम अनमोल रे मिट्टी में ना रोल रे भजन लिरिक्स


मनुष जनम अनमोल रे 
मिट्टी में ना रोल रे 
अब जो मिला है फिर ना मिलेगा 
कभी नही कभी नहीं कभी नही रे 
ॐ साईं नमो नमः श्री साई नमो नमः 

तू सत्संग में आया कर 
गीत प्रभु के गाया कर 
साँझ सवेरे बैठ के बन्दे 
गीत प्रभु के गाया कर 
नहीं लगता कुछ मोल रे 
मिट्टी में ना रोल रे 
अब जो मिला है फिर ना मिलेगा 
कभी नही कभी नहीं कभी नही रे 

तू है बुद बुद पानी का 
मत कर जोर जवानी का 
समझ संभल के कदम रखो 
पता नही जिंदगानी का 
सबसे मीठा बोल रे 
मिट्टी में ना रोल रे 
अब जो मिला है फिर ना मिलेगा 
कभी नही कभी नहीं कभी नही रे 

मतलब का संसार है 
इसका क्या ऐतबार है 
संभल संभल के कदम रखो 
फुल नही अंगारे है 
मन की आँखे खोल रे
मिट्टी में ना रोल रे 
अब जो मिला है फिर ना मिलेगा 
कभी नही कभी नहीं कभी नही रे 

मनुष जनम अनमोल रे 
मिट्टी में ना रोल रे 
अब जो मिला है फिर ना मिलेगा 
कभी नही कभी नहीं कभी नही रे 
ॐ साईं नमो नमः श्री साई नमो नमः 

मनुष जनम अनमोल रे मिट्टी में ना रोल रे भजन लिरिक्स 
Manush Janam Anmol Re Mitti Me Na Rol Re Bhajan Lyrics hindi 

गुरुदेव के भजन यहा पर देख सकते है






Comments

Popular posts from this blog

गणेश जी के भजन -Ganesh Ji ke Bhajan

शिव जी के भजन - Shiv Ji ke Bhajan

विट्ठलाचे अभंग मराठी लिरिक्स - Vitthalache Abhang Marathi lyrics