जगत में कोई ना परमानेंट भजन - Jagat Me Koi Na Parmanent Bhajan

Jagat Me Koi Na Parmanent



जगत में कोई ना परमानेंट 
जगत में कोई ना परमानेंट 

तेल चमेली चन्दन साबुन 
चाहे लगालो सेंट
जगत में कोई ना परमानेंट 

आवागमन लगी दुनिया में 
जगत है रेस्टोरेंट  
जगत में कोई ना परमानेंट 

अंत समय में उड़ जायेंगे 
तेरे तम्बू टेंट 
जगत में कोई ना परमानेंट 

मन में नाम प्रभु का राखो 
चाहे धोती पहनो या पैंट 
जगत में कोई ना परमानेंट 

हरिद्वार चाहे मथुरा काशी 
घुमो दिल्ली केंट 
जगत में कोई ना परमानेंट 

साधू संत की संगत करलो 
ये सच्ची गवरमेंट 
जगत में कोई ना परमानेंट 

गुरुदेव के भजन यहा पर देख सकते है

Jagat Me Koi Na Parmanent Bhajan  lyrics in Hindi 

जगत में कोई ना परमानेंट यह श्री राजन जी महाराज द्वारा श्री राम कथा में गाया हुआ बहुत ही सुन्दर भजन है  ,आप इस भजन का full video भी देख सकते है जिसे youtube से  लिया गया है .

Comments

Popular posts from this blog

गणेश जी के भजन -Ganesh Ji ke Bhajan

शिव जी के भजन - Shiv Ji ke Bhajan

विट्ठलाचे अभंग मराठी लिरिक्स - Vitthalache Abhang Marathi lyrics